Big Mass rally at Ranchi

Manik Sarkar 02Ranchi, 8 April, 2017: Politburo member of CPI(M) & Chief Minister of Tripura Com Manik Sarkar addressed a rally of CPI(M) at Ranchi on 8th April 2016. The rally was held in protest against the anti-people pro-corporate policies of BJP led government at the State and the centre.Addressing the gathering Com Sarkarsaid, ” The country needs a strong Left and democratic front based on struggles and a common commitment to fight the RSS-BJP onslaught in the social, cultural and economic sphere. This is the only Front that is sustainable.” Continue reading

CPIM visited waterless village at Jharkhand

latehar water crisis 01झारखंड, लातेहार।

आदिवासी व आदिम जाति के परिवार, पशुओं और जंगली जानवरों की जुठे व दुषित पानी से बुझा रहे हैं आपनी प्यास।

CPIM ने किया पेयजल संकट चटुआग गांव का दौरा

विभाग और पंचायत प्रतिनिधियो की लापरवाही से जानवरों की जुठे पानी पीने को विवश हैं आदिवासी ग्रामीण। सरहुल पुजा भी ईसी जुठे पानी से किया जाता है, यह मामला झारखंड के जिला लातेहार अंतर्गत प्रखंड चंदवा के कामता पंचायत के ग्राम चटुआग की परहैया टोला पहना पानी की है। जहां पेयजल संकट की समस्या गहराया हुआ है, टोले के आदिवासी, आदिम जाति परिवार, व पशु, कुत्ता, बिल्ली और जंगली जानवर नाला मे बने एक ही चुआंडी से दुषित पानी का सेवन कर अपनी प्यास बुझा रहे हैं, विभाग और पंचायत प्रतिनिधियो की लापरवाही के कारण वर्षो से ग्रामीण, पशुओं और गली जानवरों के जुठे पानी पीने को विवश है. Continue reading

जल जंगल जमीन खनिज की रक्षा करो

जल जंगल जमीन व खनिज सम्पदा की रक्षा के लिए आठ अप्रैल को राँची चलो ।
सी एन टी, एस पी टी एक्ट में संशोधन वापस लो, रधुवर हटाओ राज्य बचाओ। 

koderma 01भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) सी पी आई एम जिला कमिटी की विस्तारित बैठक कोडरमा में जिला कमिटी सदस्य महेश भारती की अध्यक्षता में सम्पन हुई ।बैठक में जिला सचिव रमेश प्रजापति ने विगत कार्यो का रिपोर्ट पेश करते हुए कहा कि केंद्र की भाजपानीत मोदी सरकार की जनविरोधी नीतियो के कारण मजदूर किसान छात्र नौजवान समेत आम जनता महंगाई बेरोजगारी और गरीबी के अनगिनत संकटो से घिर गई है। सार्वजनिक क्षेत्रो को निजीकरण की प्रक्रिया तेज कर किसानों की जमीन जबरन अधिग्रहित कर पूँजीपतियो को सौपी जा रही है ।वही दूसरी और राज्य में तानाशाह रधुवर सरकार भी मोदी के नक्शे कदम पर चल कर जनतंत्र का गला घोंट रही है। Continue reading

मोमेंटम झारखण्ड के पीछे की राजनीति

भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार या पूंजीपरस्त मीडिया हमें जो भी समझाने पे आमादा हो, हमें मोमेंटम झारखण्ड के पीछे की राजनीति को समझाना होगा| यदि हम झारखण्ड की समाज-व्यवस्था को देखें, तो निश्चित तौर पे यहाँ खासकर यहाँ के ग्रामीण इलाकों में पूंजीवाद का असर सीमित है| पर साथ ही यहाँ के समाज को हम सनातन (क्लासिकल) सामंती समाज भी नहीं कह सकते| बल्कि अगर देखा जाय तो झारखण्ड के देहातों में खास कर आदिवासी बहूल क्षेत्रों में आज भी आदिम साम्यवादी समाज के अवशेष बचे हुए हैं| गाँव के चरागाहों पर, जलाशयों पर, जंगलों पर आज भी सामाजिक मिलकियत यहाँ दिखाई देता है| Continue reading

Momentum Jharkhand — श्रम एवं रोजगार

“www.Momentum Jharkhand” वेब साईट पर उपलब्ध दस्तावेजो के मुताबिक झारखंड सरकार  ने 210 MoUs के रास्ते 3.5 लाख करोड़ के निवेश पर हस्ताक्षर किये , 6 लाख (2लाख प्रत्यक्ष एवं  4 लाख अप्रतक्ष्य ) रोजगार 14 क्षेत्र के 88 प्रोजेक्ट मे मिलेंगे .  अधिकांश क्षेत्र, सघन श्रम आधारित नही है .

झारखंड सरकार द्वारा पूर्ववर्ती MOU के हालात :- झारखंड सरकार के उद्योग विभाग द्वारा 2010 मे झारखंड उच्च न्य्यालय को  दिये गए  एफिडेविट के मुताबिक  74 MoU किये गए जिनमे   16 आंशिक रूप से लागु हुए ,19 निरस्त हो गए ,5 निरस्त होने के क्रम मे है . Continue reading

Surgical Strike on Farmers in Jharkhand

Barkagaon Police Firing – Surgical Strike on Farmers by BJP Government in Jharkhand:

Prakash Viplav

raj-bhawan-march-01The Barkagaon Police firing incident resulted in the death of four Mahtab Alam (29 years) and three students Ranjan Kumar (16 years), AbhishekRoy (18 years) and Pawan Shaw(18 years) and leaving 50 others injured including grievously injured Vikash Kumar Mahato and Nezam Mianis indicative of the barbaric designs of the BJP-led government in Jharkhand and its intentions of serving the interests of the corporates at the cost of the toiling masses of the state. Continue reading

Barkagaon Firing protest continues in Jharkhand

 

raj-bhawan-march-01वाम और सेक्युलर विपक्षी पार्टियों के पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत आज 9  राजनैतिक दलों की ओर से आज राजभवन मार्च आयोजित कर राज्यपाल को पांच सूत्री ज्ञापन सौंपा गया| ज्ञापन में बड़कागाँव और गोला पुलिस गोलीकांड की
जाँच उच्च न्यायलय के पीठासीन न्यायाधीश की अध्यक्षता वाले एक एक न्यायिक आयोग से जाँच कराने, मृतकों के परिवारों को 25-25 लाख मुवावजा प्रति परिवार दिए जाने और परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने, जाँच शुरू होने से
पहले वहां के सभी पुलिस और प्रशासनिक अधिकारीयों को निलंबित करने, ग्रामीणों पर दायर झूठे मुकदम्मे अविलम्ब वापस लेने और ज़मीन अधिग्रहण और विस्थापन के सवाल पर चर्चा के लिए अविलम्ब एक सर्वदलीय बैठक बुलाय जाने
की मांगे शामिल है| Continue reading